Shop

  • Home

इतिहास एवं धरोहर मानचित्रों द्वारा

 इतिहास एवं धरोहर मानचित्रों द्वारा यह पुस्तक भारतीय इतिहास को ऐतिहासिक तथ्यों के साथ-साथ भौगोलिक दृष्टि से भी परखने एवं समझने का प्रयास है। पुस्तक में प्रत्येक ऐतिहासिक स्थल को मानचित्र पर उसके आस-पास के स्थलों की अवस्थिति के साथ प्रदर्शित किया गया है। इसमें प्रत्येक ऐतिहासिक स्थल की महत्त्वपूर्ण घटनाओं को क्रमानुसार प्रदर्शित किया गया है। साथ ही प्रमुख धरोहरों के चित्रों को दिया गया है। इस पुस्तक की सबसे महत्त्वपूर्ण विशेषता हाल में खोजे गए ऐतिहासिक स्थलों की जानकारी को भी सम्मिलित करना है। यह पुस्तक प्रागैतिहास से लेकर वर्तमान तक के महत्त्वपूर्ण स्थलों की अवस्थैतिक विशिष्टता के साथ-साथ उनकी महत्त्वपूर्ण राजनैतिक-सामाजिक एवं सांस्कृतिक घटनाओं का विवरण प्रस्तुत करती है। पुस्तक की विषयवस्तु अत्यंत विस्तृत एवं विश्लेषण अत्यंत गहन है। इतिहास और भूगोल में रुचि रखने वाले विद्यार्थियों के लिए यह एक उपयोगी पुस्तक है। अपने देश की संस्कृति एवं धरोहर को जानना तथा आने वाली पीढ़ी के लिए इस जानकारी को संरक्षित रखना भी इस पुस्तक का उद्देश्य है। ,

इतिहास एवं धरोहर मानचित्रों द्वारा

विषय-वस्तु

प्राक्कथन

खंड अ

1    प्राचीन भारतीय भौगोलिक अवधारणा

2    भारत का ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक भूगोल      

खंड स

4   भारत के प्रागैतिहासिक स्थल 

5    हाल में खोजे गए हड़प्पा स्थल

6    भारत के पर्यटन महत्व के स्थल   

7    हाल में चर्चित भारत के कुछ ऐतिहासिक स्थल  

  खंड ब

3   मानचित्रों द्वारा ऐतिहासिक स्थलों की अवस्थिति

खंड द

परिशिष्ट

1   भारत की विश्व विरासत स्थल-सूची

2    भारत की विश्व विरासत स्थल-सूची 

3    ऐतिहासिक स्थल एवं सम्बद्ध उपनाम

4    ऐतिहासिक स्थल एवं सम्बद्ध व्यक्तित्व   

5    ऐतिहासिक स्थल और उससे संबंधित स्थापत्य  

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “इतिहास एवं धरोहर मानचित्रों द्वारा”

Your email address will not be published.